बलिया में पत्रकारों के उत्पीड़न से पत्रकारों में रोष

-बलिया में पत्रकारों की गिरफ्तारी, उत्पीड़न के खिलाफ पत्रकारों  में रोष।                                                            -मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन
-मामले के सीबीआई जांच की मांग
बस्ती। सोमवार को बस्ती प्रेस क्लब अध्यक्ष विनोद कुमार उपाध्याय, महामंत्री रमेश चन्द्र मिश्र के नेतृत्व में प्रेस क्लब पदाधिकारियों, पत्रकारों के एक प्रतिनिधि मण्डल ने जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल के माध्यम से मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन सौंपा,प्रतिनिधि मंडल ने मांग किया कि समाचार प्रकाशित करने पर पत्रकारों का अकारण उत्पीड़न और उनकी गिरफ्तारी बंद किया जाय और बलिया में गिरफ्तार किये गये सभी पत्रकारों को बिना शर्त रिहा कराने के साथ ही  मामले की सीबीआई से जांच कराया जाय।

प्रेस क्लब अध्यक्ष  विनोद कुमार उपाध्याय, महामंत्री रमेश चन्द्र मिश्र ने जिलाधिकारी को बताया कि बलिया में यूपी बोर्ड इण्टरमीडिएट अंग्रेजी का पेपर लीक होने का समाचार प्रकाशित करने के कारण तीन पत्रकारों को भी गिरफ्तार कर लिया गया। समाचार का प्रकाशन करना पत्रकार का धर्म है। उनकी गिरफ्तारी चौथे स्तम्भ का अपमान है। इस घटना से समूचे देश, प्रदेश के पत्रकार आहत है।प्रशासन पत्रकारों को तत्काल बिना शर्त रिहा करने के साथ ही प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच कराया जाय जिससे असली चेहरे बेनकाब हो सके।


मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में कहा गया है कि पत्रकारों का उत्पीड़न बंद हो और  बलिया मामले की सीबीआई से जांच कराकर पत्रकारों को न्याय दिलाया जाय।
ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से राजेन्द्र नाथ तिवारी, मजहर आजाद, पुनीत दत्त ओझा, संजय विश्वकर्मा,  संदीप गोयल,  सुनील कुमार पाण्डेय, देवेन्द्र पाण्डेय, संजय राय, विवेक गुप्ता, राकेश गिरी, राघवेन्द्र प्रताप मिश्र, सन्तोष कुमार पाल, राघवेन्द्र सिंह, स्कन्द शुक्ल, पारसनाथ मौर्य, अनुराग कुमार श्रीवास्तव, महेन्द्र तिवारी, श्री प्रकाश श्रीवास्तव, अनिल सिंह, जय प्रकाश यादव, शिवराज सिंह, दिनेश सिंह, विवेक श्रीवास्तव, मनोज कुमार यादव, हरिओम ‘लल्ला’ अजय कुमार श्रीवास्तव, दिलीप चन्द्र पाण्डेय, राघवेन्द्र सिंह, राजकुमार, अनिल कुमार श्रीवास्तव   के साथ ही अनेक पत्रकार शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.