विद्यार्थियों को तनावमुक्त हो कर देनी चाहिए परीक्षा

द्वादश के छात्र – छात्राओं के लिए आशीर्वचन समारोह का आयोजन
बस्ती। सरस्वती विद्या मंदिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रामबाग में आज कक्षा द्वादश के छात्र – छात्राओं के लिए आशीर्वचन समारोह का आयोजन हुआ। इस दौरान उन्हें सफलता के टिप्स दिए गए। लोगों ने विद्यालय के वरिष्ठ छात्रों से जुड़े अनुभव साझा किए तथा उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।मंच पर विद्या मंदिर के प्रधानाचार्य श्री अरविन्द सिंह, सरस्वती बालिका विद्या मन्दिर रामबाग की प्रधानाचार्या श्रीमती प्रियंका सिंह तथा सरस्वती शिशु मंदिर रामबाग के प्रधानाचार्य श्री उमेश मणि त्रिपाठी की गरिमामयी उपस्थिति रही।


विद्यालय के वरिष्ठ आचार्य श्री विनोद सिंह ने अतिथि परिचय कराया। कार्यक्रम की प्रास्तावकी प्रस्तुत करते हुए सरस्वती शिशु मंदिर रामबाग के प्रधानाचार्य श्री उमेश मणि त्रिपाठी ने कहा आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण है। आज से आपको ही सोचना है कि आपको क्या करना है, निर्णय आपको लेना है।

संगीत टोली के भैयाओं के साथ विद्यालय के संगीताचार्य श्री प्रकाश चौबे ने मार्मिक विदाई गीत प्रस्तुत किया।


वरिष्ठ आचार्य श्री राजीव श्रीवास्तव ने इस अवसर पर कहा कि आपने यहां से जो अच्छा सीखा है,उसे जीवन में अपनाएं। छात्रों को बोर्ड परीक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए तैयारी करनी चाहिए।परीक्षा के दौरान विद्यार्थी तनावमुक्त रहें, ऐसा आपका प्रयास होना चाहिए। परीक्षा केंद्र पर समय से पहुंचने का ध्यान रखें।


      इस अवसर पर सरस्वती बालिका विद्या मन्दिर रामबाग की प्रधानचार्या श्रीमती प्रियंका सिंह  ने अपने आशीर्वचन में कहा कि शिक्षा, संस्कार और अनुशासन में आपको जीवन भर बंधे रहना है। उन्होंने सभी छात्र – छात्राओं को उनके उज्ज्वल भविष्य हेतु शुभकामनाएं दीं।


सरस्वती विद्या मन्दिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रामबाग के प्रधानाचार्य अरविंद सिंह ने भी विद्यार्थियों को साधुवाद दिया तथा उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उन्होंने छात्रों से स्वाध्याय पर जोर देने की बात की और उनको शिक्षा के साथ-साथ संस्कार से जुड़ने की भी प्रशंसा की ।

कार्यक्रम में शैलेंद्र त्रिपाठी, हरिश्चंद्र वर्मा, डॉ. राजन श्रीवास्तव, सन्दीप सिंह बघेल , रमेश सिंह, हरिवंश शुक्ल , चंद्रमणि पाण्डेय, मिथिलेश पाल , डॉ. उपेन्द्र नाथ द्विवेदी , प्रकाशानंद सिंह, प्रदीप गुप्ता, अंकित कुमार गुप्ता, अश्विनी पांडेय आदि के साथ बालिका विद्या मन्दिर की आचार्या बहनें भी उपस्थित रहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.